अंजनी को लालो देव निरालो

अंजनी को लालो देव निरालो,
यो तो सबका बनावे बिगड़ेया काम,
सालासर का बालाजी।।

सालासर थारो धाम है चोखो,
मेहंदीपुर भी धाम अनोखो,
यो तो दुष्टा का खिंच लेवे प्राण
मेहंदीपुर का बालाजी,
यो तो सबका बनावे बिगड़ेया काम।।

हाथ में घोटो लाल लंगोटो,
महाबली थारो काम है मोटो,
यो तो आठों पहर जपे राम
मेहंदीपुर का बालाजी,
यो तो सबका बनावे बिगड़ेया काम ।।

बालाजी थारो नाम है ठाडो,
संकट में बाबो आवे आडो,
थारा भक्त करे गुणगान
मेहंदीपुर का बालाजी,
यो तो सबका बनावे बिगड़ेया काम।।

संगीता थाने अर्जी सुनावे,
चूरमे को बाबा भोग लगावे,
थाने लाखो लाख प्रणाम
मेहंदीपुर का बालाजी,
यो तो सबका बनावे बिगड़ेया काम।।

Leave a Reply