अपनी बहिन के प्यार को भैया न भूलना

अपनी बहिन के प्यार को भैया न भूलना
भैया न भूलना
आजाओ तुम भाई दूज पर
दिल न मेरा दुखाना
अपनी बहिन के प्यार को भैया न भूलना

अपना पूरा बचपन साथ साथ है बीता
ना कोई भी हारा और न कोई जीता
अभी दूर हूँ भैया तुमसे माथे तिलक सजाना
अपनी बहिन के प्यार को भैया न भूलना

बंधन है ये प्यार का है सबसे अनमोल
इन्तजार है तेरा भैया कुछ तो बोल
रूठा भी है अगर तू मुझसे आता भी है मानना
अपनी बहिन के प्यार को भैया न भूलना

पूनम के हाथो में सजी हुए है थाली
आजाओ राजू भैया शुभ घडी है निकलने वाली
तेरे मेरे प्यार को नजर लगाए न ये जमाना
अपनी बहिन के प्यार को भैया न भूलना
भैया न भूलना भैया न भूलना भैया न भूलना

Leave a Reply