आओ आओ मैया जी भोग लगाओ मैया जी

आओ आओ मैया जी
भोग लगाओ मैया जी
थारा भोग हुआ तैयार
माँ अब आन पधारो जी

भीलनी के बेर सुदामा जी के चावल
रूचि रूचि भोग लगाओ मैया जी
थारा भोग हुआ तैयार
माँ अब आन पधारो जी

दुर्योधन की मेवा त्यागी
साग अब गरीब घर पाओ मैया जी

साग अब गरीब घर पाओ
आओ आओ मैया जी थारा भोग हुआ तैयार
माँ अब आन पधारो जी

पांच पांडव भवन बनाया
अर्जुन चवर डुलाये

आओ आओ मैया जी
भोग लगाओ मैया जी
थारा भोग हुआ तैयार
माँ अब आन पधारो जी

Leave a Reply