आया है त्योहार ये बहना राखी लेकर आई

सँवारे आजा रे सँवारे आजा रे
सुनलो मेरे सांवरे भैया,आगे करो कलाई
आया है त्योहार ये बहना,राखी लेकर आई
ये बंधन टूटे ना,साथ ये छूटे ना

घर आने को तू करता,हरबार ही आना कानी
इसलिये तेरे दर पे,मैंने आने की ठानी
लेकर आस खड़ी हूँ दर पे,करले मेरी सुनाई
आया है त्योहार ये बहना,रखी लेकर आई

रेशम की डोरी में मैंने,मेरा प्यार छिपाया
हर सुख दुःख में साथ रहेगा,ये विश्वास समाया
चाहे छोटी चाहे बड़ी हो,सारी बात बताई
आया है त्योहार ये बहना,रखी लेकर आई

जल्दी से तुम श्याम चलो,अब मेरा नेक भी देदो
मेरे बुलाने पे आना है,वादा एक ही देदो
कहे सचिन सारी बहनों का,तुमसा एक हो भाई
आया है त्योहार ये बहना,राखी लेकर आई

This Post Has One Comment

  1. Pingback: तुलसी रानी का विवाह है सब बधाई गाओ री – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply