आ जाओ अग्रोहा धाम ये खुशियों का नगर है

आ जाओ अग्रोहा धाम ये खुशियों का नगर है
भगवन का घर है यहाँ किस बात का डर है।।

बैठा है महाराज दरबार लगाके
अपनी नज़र से देख लो एक बार तो आके
अग्रसेन के दरबार में बच्चों की कदर है
भगवन का घर है यहाँ किस बात का डर है।।

कहने की ज़रूरत नहीं आना ही बहुत है
चरणों में इनके सर को झुकना ही बहुत है
तेरी हर एक बात की दाता को खबर है
भगवन का घर है यहाँ किस बात का डर है।।

जिसने भी दिल से इनको अपना बना लिया
उसको भला है क्या कमी सब कुछ ही पा लिया
है साथ अग्रसेन जाता वो जिधर है
भगवन का घर है यहाँ किस बात का डर है।।

महाराजा अग्रसेन की आँखों में आँखे डाल
दिइवाना बन जायेगा तू ऐसा है ये कमाल
बिन्नू यहीं तो इनकी नज़रों का असर है
भगवन का घर है यहाँ किस बात का डर है।।

Aa Jao Agroha Dhaam Ye Khushiyon Ka Nagar Hai
Bhagavan Ka Ghar Hai Yahan Kis Baat Ka Dar Hai

Baitha Hai Maharaj Darabar Lagake
Apani Nazar Se Dekh Lo Ek Bar To Ake
Agrasen Ke Darabar Mein Bachchon Ki Kadar Hai
Bhagavan Ka Ghar Hai Yahan Kis Baat Ka Dar Hai

Kahane Ki Zaroorat Nahin Ana Hi Bahut Hai
Charanon Mein Inake Sar Ko Jhukana Hi Bahut Hai
Teri Har Ek Bat Ki Data Ko Khabar Hai
Bhagavan Ka Ghar Hai Yahan Kis Baat Ka Dar Hai

Jisane Bhi Dil Se Inako Apana Bana Liya
Usako Bhala Hai Kya Kami Sab Kuchh Hi Pa Liya
Hai Sath Agrasen Jata Vo Jidhar Hai
Bhagavan Ka Ghar Hai Yahan Kis Baat Ka Dar Hai

Maharaja Agrasen Ki Ankhon Mein Ankhe Daal
Deevana Ban Jayega Tu Aisa Hai Ye Kamal
Binnu Yahin To Inaki Nazaron Ka Asar Hai
Bhagavan Ka Ghar Hai Yahan Kis Baat Ka Dar Hai

Leave a Reply