इस संसार में तू अकेला आया है अकेला जाएगा

इस संसार में तू अकेला आया है अकेला जाएगा,
ये बोझ तेरा अपना तुझे ही उठाना है दूजा न उठाएगा,

माँ की ममता है बच्चे को दूध पिलाती,
खुद भूखी रह जाती बच्चे को खाना खिलाती,
बुढ़ापे में लेकिन क्या ये काम आएगा,
देखना वक़्त आने पे छोड़ चला जायेगा,
इस संसार में तू अकेला आया है।।

चैन नहीं था तुझको जब तू भोजा ढो रहा था,
घर पहुंचा तेरा लाडला पालने में सो रहा रहा,
ये वक़्त है अब तो वह मरहम लगा दे,
जो कर्ज है तुझपर पर तू उसका सूत चूका दे,
इस संसार में तू अकेला आया है।।

उस प्यार को ठुकरा दिया जो बचपन से मिला,
उस प्यार को अपना लिया जो कल ही तुझे मिला,
जिस पेड़ की छाया में तूने जीवन बिताया,
उसकी साखा तू आज है तोड़ने आया,
इस संसार में तू अकेला आया है।।

Is Sansar Mein Tu Akela Aaya Hai

Is Sansar Mein Tu Akela Aaya Hai
Tu Akela Jayega

Yah Bojh Tera Apna
Tujhe Hi Uthana Hai
Duja Na Uthayega
Is Sansar Mein Tu
Akela Aaya Hai

Maa Ki Mamta Hai Bachche
Ko Doodh Pilati Hai

Khud Bhookhi Rah Jaati Hai
Par Bachche Ko Khana Khilati Hia

Budape Mein Lekin Kya
Yah kaam Aayega

Dekhna Waqt Aane Per
Chhod Chala Jayega
Is Sansar Mein Tu
Akela Aaya Hai

Chain Nahi Tha Tujhko
Jab Tu Bojha Do Raha Tha

Ghar Pahucha Tera Ladla
Palne Mein So Raha Tha

Yah Waqt Hai Ab To
Jara Vaha Marham Laga De

Jo Karj Hai Tujh Per
Tu Uska Sood Chuka De
Is Sansar Mein Tu
Akela Aaya Hai

Iss Pyar Ko Thukra Diya
Jo Bachpan Se Mila
Uss Pyar Ko Apna Liya
Jo Kal Hi Tujhe Mila

Jis Ped Ki Chhaya Mein
Tune Jeevan Bitya

Uski Shakha Tu Aaj
Hai Tod Kar Ayaa

Is Sansar Mein
Tu Akela Aaya Hai

Leave a Reply