ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम

ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम
ऐ री मेरो वृन्दावन सुखधाम,
प्रिय लाल को लाड लड़ावत,
प्रिय लाल को लाड लड़ावत,
सब विधि पूरन काज,
सब विधि पूरन काज,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुखधाम ।।

ऐ री मेरो वृन्दावन सुखधाम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम।।

महा प्रेम सो राखो सागर,
रोम रोम अभिराम,
रोम रोम अभिराम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम,
प्रिय लाल को लाड लड़ावत,
सब विधि पूरन काज।।

ऐ री मेरो वृन्दावन सुखधाम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम।।

मन तेरा सीकवर,
मन तेरा सीकवर,
झूठी जीवन झूठी जीवन
कुञ्ज गालियां वृषराम
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम,
प्रिय लाल को लाड लड़ावत,
सब विधि पूरन काज।।

ऐ री मेरो वृन्दावन सुखधाम,
ऐ री मेरो वृन्दावन सुख धाम।।

सिंगर -चित्र विचित्र जी।।

This Post Has 4 Comments

Leave a Reply