ऐ सुंदर श्याम बताओ तुम्ही तुमसा कोई सुंदर और भी है

ऐ सुंदर श्याम बताओ तुम्ही
तुमसा कोई सुंदर और भी है।।

ऐ सुंदर श्याम बताओ तुम्हे
तुमसा कोई सुंदर और भी है।।

प्यारी मुस्कान कजरारे नयन
बांकी चितवन टेडी सी चलन।।

जिसे देख हुआ दिल दीवाना
ऐसा मुख चंदर और भी है क्या।।

गिरिराज धारण भूवी भर हरण
काली पे चरण भक्तो को शरण।।

क्या जाग में श्याम कोई तुमसा
करुणा का समंदर और भी है।।

है धाम तुम्हारा वृंदावन
यमुना तट बंशी वट निधि वन।।

जिस दर से सभी की आस लगी
क्या ऐसा कोई दर और भी है।।

ऐ सुंदर श्याम बताओ तुम्ही
तुमसा कोई सुंदर और भी है।।

Ae Sundar Shyam Batao Tumhe
Tumsa Koi Sundar Aur Bhi Hai

Ae Sundar Shyam Batao Tumhe
Tumsa Koi Sundar Aur Bhi Hai

Pyari Muskan Kajarare Nayan
Banki Chitwan Tedi Si Chalan

Jise Dekh Hua Dil Deewana
Aisa Mukh Chandar Aur Bhi Hai Kya

Giriraj Dharan Bhuvi Bhar Haran
Kaali Pe Charan Bhakto Ko Sharan

Kya Jag Mein Shyam Koi Tumsa
Karuna Ka Samandar Aur Bhi Hai

Hai Dhaam Tumhara Vrindavan
Yamuna Tat Banshi Vat Nidhi Van

Jis Dar Se Sabhi Ki Aash Lagi
Kya Aisa Koi Dar Aur Bhi Hai

Ae Sundar Shyam Batao Tumhe
Tumsa Koi Sundar Aur Bhi Hai

Leave a Reply