ओ मैया मैंने ज्योत जगाई तेरे नाम की

जयकारा शेरावाली दा
शेर ते सवार होके आजा शेरावालिये माँ
ज्योत जगाई तेरे नाम की
मैया मैंने तेरे नाम की

कब से खड़ी हु द्वार पे तेरे
दूर भी करदो माँ मेरे अंधेरे
ज्योता वाई लाटा वाली
कर दो किनारे मेरे काम भी
ओ मैया मैंने ज्योत जगाई तेरे नाम की

बीच मजधार के ढोले मेरी नैया
अब तो पार लगादो मेरी मैया
शेरोवाली मेहरो वाली
करदो किनारे मेरे काम भी
ओ मैया मैंने ज्योत जगाई तेरे नाम की

आजा मेरी आंबे आजा भवानी
मेरे नगर तू अब जग कल्याणी
आंबे रानी माँ कल्याणी
करदे किरपा तू मेरे भी
ओ मैया मैंने ज्योत जगाई तेरे नाम की

This Post Has One Comment

  1. Pingback: कभी माँ के द्वारे पे आकर तो देखो – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply