कब तक उलझेगा माया में चार दीनो का डेरा है

कब तक उलझेगा माया में
चार दीनो का डेरा है

उड़ जाएँगे एक दिन पंछी
फिर तेरा ना मेरा है

कब तक उलझेगा माया में
चार दीनो का डेरा है

जोड़ी है जो कपाट से माया
तूने धन जो छल से कमाया
जोड़ी है जो कपाट से माया
काम ना आए ये आख़िर में
सोच ना ये सब तेरा है

उड़ जाएँगे एक दिन पंछी
फिर तेरा ना मेरा है

तोड़ दे मो माया के बंधन
सात करमो में लगड़े तू मन

तेरे संग यही जाएँगे
बाकी रख का ढेरा है

उड़ जाएँगे एक दिन पंछी
फिर तेरा ना मेरा है

अपना अपना कहने वाले
ताला अपने मूह पे लगाले

छूटेंगे तेरे महल अटारी
ये अज्ञान अकेला है

उड़ जाएँगे एक दिन पंछी
फिर तेरा ना मेरा है

Kab Tak Uljhega Maya Mein
Chaar Dino Ka Dera Hai

Kab Tak Uljhega Maya Mein
Chaar Dino Ka Dera Hai

Ud Jayenge Ek Din Panchhi
Fir Tera Naa Mera Hai

Kab Tak Uljhega Maya Mein
Chaar Dino Ka Dera Hai

Jodi Hai Jo Kapat Se Maya
Tune Dhan Jo Chhal Se Kamaya
Jodi Hai Jo Kapat Se Maya
Kaam Naa Aaye Ye Akhir Mein
Soch Naa Ye Sab Tera Hai

Ud Jayenge Ek Din Panchhi
Fir Tera Naa Mera Hai

Tod De Moh Maya Ke Bandhan
Sat Karmo Mein Lagade Tu Mann

Tere Sang Yahi Jayenge
Baaki Rakh Ka Dhera Hai

Ud Jayenge Ek Din Panchhi
Fir Tera Naa Mera Hai

Apna Apna Kahne Wale
Tala Apne Muh Pe Lagale

Chhutenge Tere Mahal Atari
Ye Agyan Akela Hai

Ud Jayenge Ek Din Panchhi
Fir Tera Naa Mera Hai

Leave a Reply