की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे

पल पल करके दिन लंघ जांदे ते दिन दिन करके महीने
तेरियां साहवा दे विच लुके तेरी जिन्दगी दे नगीने।।

की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे
साहनु बख्स देयो सरकार जिन्दगी कट जावे
गुरु जी बख्स देयो सरकार जिन्दगी कट जावे
की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे।।

ऐ उचे महिल चुबारे जी तेरे पल विच टूट भज जाने ने
नाले हुसन जवानी दे गेहने बहुते चिर हथ नही रेहने ने
सब दी रजा विच राजी रेहना कौन तेनु समजावे
पल आवे न आवे हो पल आवे न आवे
की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे।।

तू पोखियाँ पड़दा रेहन्दा ऐ कदी मन अपने नु पड़ेया ऐ नही
अस्मानी उड़दा फडदा एह जेह्डा घर बैठा ओहनू फड़ेया ऐ नही
बुल्ले शाह गल ताहियो मुकदी जे मन दी मैल मूक जावे
पल आवे न आवे हो पल आवे न आवे
की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे।।

ना कर बंदेया मेरी मेरी न एह तेरी न एह मेरी
चार दिना दा मेला दुनिया मिटटी दी बन जाना ढेरी,
उठ फरीदा रब रब कर लै वेला न लंघ जावे
पल आवे न आवे हो पल आवे न आवे
की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे।।

देख फरीदा मिटटी खुली मिटटी उते मिटी डुली,
मिटटी हसे मिटी रोवे अंत मिटी दा मिटी हॉवे
तेरिया तुहियो जाने मालका मेनू कौन समजावे
पल आवे न आवे हो पल आवे न आवे
की पल दा भरोसा यार पल आवे न आवे।।

This Post Has One Comment

  1. Pingback: top punjabi bhajans lyrics – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply