कुसुम चौहान का ज़बरदस्त निर्गुण भजन | करो माँ बाप की सेवा | Kusum Chauhan | Latest Nirgun Bhajan 2021


कुसुम चौहान का ज़बरदस्त निर्गुण भजन | करो माँ बाप की सेवा | Kusum Chauhan | Latest Nirgun Bhajan 2021

HM 1964 ▻ Album Song :- करो माँ बाप की सेवा | Karo Maa Baap Ki Sewa ▻ Singer :- Kusum Chauhan ▻ Lyrics :- Kusum Chauhan ▻ DOP :- Samir Ilahi …
#कसम #चहन #क #ज़बरदसत #नरगण #भजन #कर #म #बप #क #सव #Kusum #Chauhan #Latest #Nirgun #Bhajan
कुसुम चौहान का ज़बरदस्त निर्गुण भजन | करो माँ बाप की सेवा | Kusum Chauhan | Latest Nirgun Bhajan 2021
#कसम #चहन #क #ज़बरदसत #नरगण #भजन #कर #म #बप #क #सव #Kusum #Chauhan #Latest #Nirgun #Bhajan

 

Kusum chauhan krishna bhajan lyrics in hindi 

मां यशोमत तेरे लाल ने

मेरी मटकी दई उछाल

मैं गोकुल की गुजरी

मैं माखन ले के आ गई

मेरे सिर पर बदरी छा गई

मोहे छेड़े है नंदलाल

मैं गोकुल की गुजरी

मेरी मटकी दई उछाल

मैं गोकुल की गुजरी

मैं डरती डरती आ रही

डीग धरती धरती आ रही

रस्ते में मिल गए हो ग्वाल

मैं गोकुल की गुजरी

मेरी मटकी दई उछाल

मैं गोकुल की गुजरी

गिरी माखन मटकी हार के

मैं सब कुछ बैठी वार के

मेरा गोरा रंग हूया लाल

मै गोकुल की गुजरी

मेरा सारा माखन खा गयो तेरा लाल

मेरा लाल बड़ा शर्मा गया

 

Kusum chouhan ke Bhajan lyrics

 

मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊंगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,

अरी ना भावे मुझे महल दुमहले,
ना चाहिए मुझे शाल दुशाले,
मैया री मैं तो कुटिया में रह ल्यूंगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन Shyam के गाऊँगी,

जमना जी से जल भर ल्याऊं,
चौकी चन्दन की बनवाऊँ,
श्याम का मळ मळ कमर मिलाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी, प्यारी गौरी सी इक पालूँ गैयाँ, रोज बनाऊँ दूध और दहियाँ, श्याम को माखन को भोग लगाऊँगी,पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,

पतली पतली पोउ फुलकिया, फेर बुला ल्यूं सारी सखियाँ, मैया री मैं तो पंखा झोल जीमाउंगी,पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी, चुन चुन फूल कमल के ल्याऊँ, फिर कान्हां की सेज लगाऊँ, मैया री मैं तो धीरे धीरे चरण दबाऊँगी,पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,  घिस घिस चन्दन तिलक लगाऊँ, मन में श्याम की सूरत बसाऊँ, मैया री मैं तो भव सागर तर जाऊँगी,पर भजन श्याम के गाऊँगी,
मैया री मैं तो वृन्दावन चली जाऊँगी,
पर भजन श्याम के गाऊँगी,

 

 

Leave a Reply