गंगा किनारे चले जाना मुड़के फिर नहीं आना

बम बम बम बम भोला
बम बम बम बम भोला

कह गए साधु कह गए कबीर
कह गए साधु कह गए फ़कीर
क्या तेरा क्या मेरा कबीरा
सारा ये खेल है तक़्दीरों का
सारा ये खेल है तक़्दीरों का
क्या तूने ले जाना सब यही रह जाना

मिटती है मूरत जीवनी ओ वाणी है
गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

ये जीवन तेरा लकड़ी का पुतला
ये जीवन तेरा लकड़ी का पुतला
ये जीवन तेरा लकड़ी का पुतला
ये जीवन तेरा लकड़ी का पुतला
आग लगे जर जाना मुड़के फिर नहीं आना

मिटदि है मूरत जिन्दी ये वाणी है
गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

ये जीवन तेरा माटी का पुतला
ये जीवन तेरा माटी का पुतला
ये जीवन तेरा माटी का पुतला
ये जीवन तेरा माटी का पुतला
माटी में ही मिल जाना

गंगा किनारे चले जाना

मिटदि है मूरत जिन्दी ये वाणी है
गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

ये जीवन तेरा मोह के धागे
ये जीवन तेरा मोह के धागे
ये जीवन तेरा मोह के धागे
ये जीवन तेरा मोह के धागे
गाठ लगे तूट जाना
मुड़के फिर नहीं आना

मिटदि है मूरत जिन्दी ओ वाणी है
गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

मिटदि है मूरत जिन्दी ओ वाणी है
गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

तेरे अपने ही तुझको जलायेंगे
कुछ दिन रोयेंगे फिर भूल जायेंगे
तेरे अपने ही तुझको जलायेंगे
कुछ दिन रोयेंगे फिर भूल जायेंगे
फिर भूल जायेंगे फिर भूल जायेंगे

ओ गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

बम बम बम बम भोला
बम बम बम बम भोला

मिटदि है मूरत जिन्दी ओ वाणी है
गंगा किनारे चले जाना
मुड़के फिर नहीं आना

Bam Bam Bhola Bam Bam Bhola
Keh Gaye Sadhu Keh Gaye Kabeera
Keh Gaye Sadhu Keh Gaye Fakeer

Kya Tera Kya Mera Kabeera
Saara Ye Khel Hai Taqdeero Ka

Kya Tune Le Jaana Sab Yahi Reh Jana
Mitati Hai Moorat Jeevni O Vaani Hai

Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Ye Jeevan Tera Lakdi Ka Putla
Ye Jeevan Tera Lakdi Ka Putla
Aag Lage Jar Jana Mudke Fir Nahi Aana

Mitadi Hai Moorat Jindi Ye Vaani Hai
Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Ye Jeevan Tera Maati Ka Putla
Ye Jeevan Tera Maati Ka Putla
Maati Mein Hi Mil Jaana
Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Mitadi Hai Moorat Jindi O Vaani Hai
Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Ye Jeevan Tera Moh Ke Dhaage
Gaath lage Tut Jaana
Mudke Fir Nahi Aana

Mitadi Hai Moorat Jindi O Vaani Hai
Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Tere Apne Hi Tujhko Jalayenge
Kuchh Din Royenge Fir Bhool Jayenge
Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

Mitadi Hai Moorat Jindi O Vaani Hai
Ganga Kinare Chale Jana
Mudke Fir Nahi Aana

This Post Has One Comment

Leave a Reply