गुरु ज्ञान की हो बरसात आप के वचनो से

भगवान का आपमे दर्श किया
गुरु देव स्वीकार सहर्ष किया
मुझे आप ही मोक्षा दिलाओगे
मन बोला जो मन से विमर्श किया
मन बोला जो मन से विमर्श किया

गुरु ज्ञान की हो बरसात आप के वचनो से,
आप के वचनो से, आप के वचनो से,
अमृत बरसे दिन रात आप के वचनो से,

नमो नमो विमर्श मुनि महा कवी महा मुनि
नमो नमो विमर्श मुनि महा कवी महा मुनि

सत्या का दर्पण दिखा दिया है नींद से मुझे जगा के ,
हे आचार मेरी आँखों में देखा जब मुसका के ,
देखा जब मुस्काके गुरुवर देखा जब मुस्का के
मैं समझ गया हर बात आप के वचनो से,
अमृत बरसे दिन रात आप के वचनो से,
गुरु ज्ञान की हो बरसात आप के वचनो से,

नमो नमो विमर्श मुनि महा कवी महा मुनि
नमो नमो विमर्श मुनि महा कवी महा मुनि

सच कहता हु आप से नाता जोड़ा मैंने जब से ,
लोभ मोह छल कपट वासना पास ना आये तब से,
हो शुरू मेरी परभात आप के वचनो से,
अमृत बरसे दिन रात आप के वचनो से,
गुरु ज्ञान की हो बरसात आप के वचनो से,

नमो नमो विमर्श मुनि महा कवी महा मुनि
नमो नमो विमर्श मुनि महा कवी महा मुनि

बून्द था मैं पानी की आप ने सागर बना दियां,
खाली मन को ज्ञान का गुरु वर गागर बना दियां,
मिलता है प्रभु का साथ आप के वचनो से,
अमृत बरसे दिन रात आप के वचनो से,
गुरु ज्ञान की हो बरसात आप के वचनो से,

Bhagwan Ka Apme Darsh Kiya
Guru Dev Saharsh Sweekar Kiya
Mujhe Aap Hi Moksha Dilauge
Man Bola Jo Man Se Vimarsh Kiya

Guru Gyan Ki Ho Barsaat Aap Ke Vachano Se
Amrt Barase Din Raat Ap Ke Vachano Se

Satya Ka Darpan Dikha Diya Hai Neend Se Mujhe Jaga Ke
Guru Var Neend Se Mujhe Jaga Ke
Hey Acharya Meri Ankhon Mein Dekha Jab Muska Ke
Guru Var Dekha Jab Muska Ke

Main Samaj Gaya Har Baat Aap Ke Vachano Se
Guru Gyan Ki Ho Barsaat Aap Ke Vachano Se

Sach Kahata Hu Aap Se Nata Joda Mainne Jab Se
Lobh Moh Chhal Kapat Vasana Pas Na Aaye Tab Se

Ho Shuru Meri Parabhat Aap Ke Vachano Se
Guru Gyan Ki Ho Barsaat Aap Ke Vachano Se

Bund Tha Main Pani Ki Ap Ne Sagar Bana Diyan
Khali Man Ko Gyan Ka Guru Var Gagar Bana Diyan

Milta Hai Prabhu Ka Sath Aap Ke Vachano Se
Guru Gyan Ki Ho Barsaat Aap Ke Vachano Se

Leave a Reply