चलो माँ का करो श्रृंगार नवराते आये है

चलो माँ का करो श्रृंगार नवराते आये है
चलो माँ का करे दीदार नवराते आये है
लाल चुनरिया माँ को चढ़ाये
आओ माँ को चढ़ाओ
गले पहनाओ मोतियन हार नवराते आये है
चलो माँ का करो श्रृंगार नवराते आये है

सर पे माँ के मुकुट सजाये चलो मुकुट सजाये
जिसमे जड़े है रतन आपार नवराते आये है
चलो माँ का करो श्रृंगार नवराते आये है

हाथो में चलो मेहंदी लगादे
माँ को मेहंदी लगादे
केशव शर्मा मेहंदी लगादे
करे कुर्मी अमन दीदार

चलो माँ का करो श्रृंगार नवराते आये है
चलो माँ का करे दीदार नवराते आये है

This Post Has One Comment

  1. Pingback: करले भरोसा तू अम्बे रानी पे – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply