चलो रे भगतो माँ के मंदिर जायेगे

चलो रे भगतो माँ के मंदिर जायेगे
सुंदर गेहने लाल चुनारिया माँ को चड़ायेगे
चलो रे भगतो माँ के मंदिर जायेगे

जगमग करता माँ का रूप बड़ा ही सलोना
माँ की किरपा से है रोशन जग का कोना कोना
ममता मई है माँ की मूरत आज निहारेगे
चलो रे भगतो माँ के मंदिर जायेगे

सारे राह में कीर्तन हम माँ के करते चलेगे
बजा बजा के ताली हम सब झूमे गे गायेगे
जय जय माँ के नाम जय कार लगाएगे
चलो रे भगतो माँ के मंदिर जायेगे

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply