जगदम्बे माँ आई मैं तोरे अंगनवा

जगदम्बे माँ आई मैं तोरे अंगनवा,
गाऊ में तोरे भजनवा आई मैं तोरे अंगनवा।।

तोरहरे अंगनवा की माँ ये चमेली
जग को सारे मेह्काई अलेकी
कोयालियाँ मीठी तान सुनाये भगती में होके मगनवा
आई मैं तोरे अंगनवा।।

तोहरे अंगनवा की रुत मस्तानी
देख इसे माई हुई मैं दीवानी
तोहरे द्वारे झूम के नाचू और खन्काऊ कंगनवा
आई मैं तोरे अंगनवा।।

तोहरे अंगनवा में मेला लगत है ,
सब की बिगडे काम बनत है
एजाज़ की झोली में भरदो भगती के सारे खजन वा
आई मैं तोरे अंगनवा।।

Jagdambe Maa Aai Main Tore Anganava
Gau Mein Tore Bhajanava
Aai Main Tore Anganava

Torahare Anganava Ki Ma Ye Chameli
Jag Ko Sare Mehkai Aleki
Koyaliyan Mithi Tan Sunaye
Bhagati Mein Hoke Magan Va
Aai Main Tore Anganava

Tohare Anganava Ki Rut Mastani
Dekh Ise Mai Hui Main Deevani
Tohare Dvare Jhum Ke Nachu
Aur Khankau Kanganava
Aai Main Tore Anganava

Tohare Anganava Mein Mela Lagat Hai
Sab Ki Bigade Kam Banat Hai
Ejaz Ki Jholi Mein Bharado
Bhagati Ke Sare Khajan Va
Aai Main Tore Anganava

Leave a Reply