जी ना पाएंगे रंगीली सरकार के बिना

खुश रह लेंगे कोठी और कार के बिना
जी ना पाएंगे रंगीली सरकार के बिना।।

सोना मिले ना चाहे चंडी मिले ना
सेवा को चाहे नौकर बांदी मिले ना
रह ना पाएंगे राधा तेरे प्यार के बिना
जी ना पाएंगे रंगीली सरकार के बिना।।

ऐसे बंधे हैं जैसे पतंग से डोरी
हर सांस कहती किशोरी किशोरी
जैसे नाव नहीं चले पतवार के बिना
जी ना पाएंगे रंगीली सरकार के बिना।।

ये तन है प्यारे दो आने की माटी
माथे लगा लो बरसाने की माटी
अजनबी क्या है राधा उस द्वार के बिना
जी ना पाएंगे रंगीली सरकार के बिना
खुश रह लेंगे कोठी और कार के बिना।।

Khush Rah Lenge Kothi Aur Car Ke Bina
Jee Na Payenge Rangeeli Sarkar Ke Bina

Sona Mile Na Chahe Chandi Mile Na
Seva Ko Chahe Naukar Bandi Mile Na
Rah Na Paenge Radha Tere Pyar Ke Bina
Jee Na Paenge Rangeeli Sarkar Ke Bina

Aise Bandhe Hain Jaise Patang Se Dori
Har Sans Kahati Kishori Kishori
Jaise Nav Nahin Chale Patavar Ke Bina
Jee Na Paenge Rangeeli Sarakar Ke Bina

Ye Tan Hai Pyare Do Ane Ki Mati
Mathe Laga Lo Barasane Ki Mati
Ajanabi Kya Hai Radha Us Dwar Ke Bina
Jee Na Paenge Rangeeli Sarakar Ke Bina
Khush Rah Lenge Kothi Aur Car Ke Bina

This Post Has 2 Comments

  1. Pingback: बरसाने बजत बधाई भानु घर लाली आई – bhakti.lyrics-in-hindi.com

  2. Pingback: radha ji bhajan lyrics in hindi – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply