जो रात दिन सेवा करे श्री राम की

जो रात दिन सेवा करे श्री राम की,
जिसे लाल अपना मानती माँ जानकी,
आओ करे हम याद अंजनी लाल को,
मारुती नन्द नमो नमो,
असुर निकंद नमो नमो।।

जो पल में लंका जला आये,
और सीता जी की सूधी लाये,
जिसने वसया दिल में सीता राम को,
आओ करे हम याद उस हनुमान को,
मारुती नन्द नमो नमो,
असुर निकंद नमो नमो।।

जब संकट में लक्ष्मण आये तो तोड़ संजीवनी ले आये,
जिस ने बचाया लखन लाल के प्राण को,
आओ करे हम याद उस बलवान को,
मारुती नन्द नमो नमो,
असुर निकंद नमो नमो।।

जो साधू संत के रखवाले,
और राम सिया के है प्यारे,
जिस राम जी भाई भरत सा मानते,
आओ करे हम याद उस भगवान को,
मारुती नन्द नमो नमो,
असुर निकंद नमो नमो।।

जो रामयाण के रसिया है,
और राम सिया मन वसियाँ है,
बोलो ललित के साथ जय हनुमान की,
जिसे लाल अपना मानती माँ जानकी,
आओ करे हम याद अंजनी लाल को,
मारुती नन्द नमो नमो,
असुर निकंद नमो नमो।।

Jo Din Raat Seva Kare Shree Ram Ki
Jise Laal Apna Manti Maa Janki
Aao Kare Hum Yaad Anjani Laal Ko
Maruti Nand Namo Namo
Asur Nikandan Namo Namo

Leave a Reply