तेरा करने को दीदार सवारिया रपट लिखाए दूँगी

तेरा करने को दीदार सवारिया
रपट लिखाए दूँगी
रपट लिखाए दूँगी
मुक़दमा मैं चलवाए दूँगी।।

तेरा करने को दीदार सवारिया
रपट लिखाए दूँगी।।

करू मुक़दमा तेरे ऊपर माखन चोरी को
मटकी फोड़ी कैसे बने वो सीना चोरी को
तेरी और भतेरी बात सबाई डाट के लिखवाए दूँगी
तेरा करने को दीदार साँवरिया
रपट लिखवाए दूँगी।।

ना आयो जो बाज संवरो फिर पछतावेगो
चले मुक़दमा तार के बैठू
मेरी अँखियाँ की बुझे प्यास
पलट के तोहे लखाए लूँगी
तेरा करने को दीदार साँवरिया
रपट लिखाए दूँगी।।

बरसो बीत लिए कान्हा
मेरे लिए कान्हा
मेरे तरसे है नैना
हाए काहु गवाए मैया ने
मेरो लूट्ईो है चाइना
देखोगो मेरी और झलक
के आँख दबाए दूँगी।।

Tera Karne Ko Didar Sawariya
Rapat Likhaye Dungi
Rapat Likhaye Dungi
Mukadma Main Chalvaye Dungi

Tera Karne Ko Didar Sawariya
Rapat Likhaye Dungi

Karu Mukadma Tere Upar
Makhan Chori Ko
Mataki Fodi Kaise Bane
Vo Seena Chori Ko
Teri Aur Bhateri Baat Sabai Dat Ke Likhvaye Dungi
Tera Karne Ko Deedar Sanwariya
Rapat Likhvaye Dungi

Na Aayo Jo Baaj Sanwaro
Fir Pachhatavego
Chale Mukadma Taar Ke Baithu
Meri Ankhiyan Ki Bujhe Pyas
Palat Ke Tohe Lakhaye Lungi
Tera Karne Ko Deedar Sanwariya
Rapat Likhaye Dungi

Barso Beet Liye Kanha
Mere Liye Kanha
Mere Tarse Hai Naina
Haye Kahu Gavaye Maiya Ne
Mero Lutyo Hai Chaina
Dekhogo Meri Aur Jhalak
Ke Aankh Dabaye Dungi

Leave a Reply