तेरी राधा पुकारे आ जाओ घनश्याम

श्याम पिया की मैं हूँ दीवानी
दिल में बसे मेरे श्याम
तेरी राधा पुकारे आ जाओ घनश्याम ओ श्याम
तेरी राधा पुकारे आ जाओ घनश्याम

बँसी की तान अब कहीं न सुनाए
पीर यह सह न पाऊँ
तेरे बिना मोहे कौन सताए
पनघट पे जब जाऊँ
पनघट पे जब मैं जाऊँ
तेरे नाम की जोगन बनके
मैं तो हुई बदनाम
तेरी राधा पुकारे आ जाओ घनश्याम ओ श्याम
तेरी राधा पुकारे आ जाओ घनश्याम

श्याम है तन में श्याम है मन में श्याम बसे धड़कन में
श्याम बिना यह जग है सूना दुःख ही दुःख जीवन में
दुःख ही दुःख जीवन में
मैं तो हूँ तेरी प्रेम पुजारिन तूँ मेरा भगवान
तेरी राधा पुकारे आ जाओ घनश्याम
ओ श्याम मेरे आ जाओ घनश्याम

This Post Has 5 Comments

Leave a Reply