तेरी रेहमतो से जिये जा रहूँ हूँ

तेरी रेहमतो से जिये जा रहूँ हूँ
चरणों में तेरे खीचा चला आ रहा हूँ
तेरी रेहमतो से जिये जा रहा हूँ ।।

लुटाता है वो मैं लुटा जा रहूँ हूँ
मिटाता है वो मैं मिटा जा रहूँ हूँ
तेरी रेहमतो से जिये जा रहा हूँ।।

खबर कुछ नही है कहा जा रहा हूँ
बुलाता है वो मैं चलता जा रहा हूँ
तेरी रेहमतो से जिये जा रहा हूँ।।

तेरे प्रेम का रंग यु ला रहा हूँ ,
निगाहो में तेरी बसा जा रहा हूँ
तेरी रेहमतो से जिये जा रहा हूँ।।

पता प्रेम के सिन्धु का पा रहा हु,
की बाहा जा रहा हु
तेरी रेहमतो से जिये जा रहा हूँ।।

Teri Rehmato Se Jiye Ja Rahu Hu
Charano Mein Tere Khicha Chala Aa Raha Hu
Teri Rehmato Se Jiye Ja Rahu Hu

Lutata Hai Vo Main Luta Ja Raha Hu
Mitata Hai Vo Main Mita Ja Raha Hu
Teri Rehmato Se Jiye Ja Rahu Hu

Khabar Kuchh Nahi Hai Kaha Ja Raha Hu
Bulata Hai Vo Main Chalata Ja Raha Hu
Teri Rehmato Se Jiye Ja Rahu Hu

Tere Prem Ka Rang Yu La Raha Hu
Nigaho Mein Teri Basa Ja Raha Hu
Teri Rehmato Se Jiye Ja Rahu Hu

Pata Prem Ke Sindhu Ka Pa Raha Hu
Ki Baha Ja Raha Hu
Teri Rehmato Se Jiye Ja Rahu Hu

Leave a Reply