तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा

तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

ओ मेरे सावरे ओ मेरे सावरे
तेरे बिन नाही लागे जिया
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

तेरी मोहब्बत ने मेरे
दिल को ऐसा तड़पा डाला
लाख संभालू अपने दिल को
जाये नहीं पर संभाल
ओ मेरे सँवारे ओ मेरे सँवारे।।

ये दर्द न जाये सहा
तेरे बिना हूँ तनहा तुझको मैं ढूँढू कहा
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

ओ मेरे सावरे ओ मेरे सावरे
तेरे बिन नाही लागे जिया
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

मेरे दिल की दुनिया का
तेरे बिन उजड़ा गुलशन
तेरे दरश बिन सुनी अंखिया
तू आके कर दे रोशन ।।

पल पल न यु तड़पा तुझको मैं ढूँढू कहा
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

ओ मेरे सावरे ओ मेरे सावरे
तेरे बिन नाही लागे जिया
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

तेरे बिना मेरे पागल दिल को
आता नहीं पल चैन
गम के अंधेरो ने ऐसा घेरा रो रो बिटू रैन
इतना न मुझको रुला तुझको मैं ढूँढू कहा
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

ओ मेरे सावरे ओ मेरे सावरे
तेरे बिन नाही लागे जिया
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

चित्र विचित्र के प्रानन प्यारे
जरा दर्शन की प्यास बुझा दो
लूट गए हम तेरी एक झलक पर
फिर से वो झलक दिखा दो।।

ले चल मुझे तू जहा तुझको मैं ढूँढू कहा
ओ मेरे सावरे ओ मेरे सावरे
तेरे बिन नाही लागे जिया।।

तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा
तेरे बिना हूँ तन्हा तुझको मैं ढूँढू कहा।।

Leave a Reply