दुनियाँ से दिल लगाकर दुनियाँ से क्या मिलेगा

दुनियाँ से दिल लगाकर दुनियाँ से क्या मिलेगा
बाबा का नाम जप ले तुझे आसरा मिलेगा
दुनियाँ से दिल लगाकर

जिसको तूँ समझें अपना वोह तो है झूठा सपना
तेरा श्याम है सहारा बस उनका नाम जपना
सब द्वार बंद होंगे यह दर खुला मिलेगा
बाबा का नाम जप ले तुझे आसरा मिलेगा
दुनियाँ से दिल लगाकर

कितना छुपा ले दामन बाबा को सब पता है
नेकी बदी को तेरी हर पल वोह लिख रहा है
जिस दिन हिसाब लेगा उसे क्या जबाब देगा
बाबा का नाम जप ले तुझे आसरा मिलेगा
दुनियाँ से दिल लगाकर

दौलत हो या हकूमत ताक़त हो या जवानी
हर चीज़ मिटने वाली हर चीज़ आनी जानी
यह सब गरूर एक दिन मिटटी में जा मिलेगा
बाबा का नाम जप ले तुझे आसरा मिलेगा
दुनियाँ से दिल लगाकर

Leave a Reply