दुनिया पैसों की पुजारी पूजा करते नर और नारी

दुनिया पैसों की पुजारी पूजा करते नर और नारी,
जग में पाप कमाते भारी माया पैसों की माया पैसों की
माया पैसों की माया पैसों की।।

पैसा मां-पापा ने प्यारा नहीं तो बेटा लागे खारा,
कहते है ये तो आवारा माया पैसों की माया पैसों की
ओ माया पीसा री ओ माया पीसा री ।।

पैसा पास तो पत्नी राजी नहीं तो ताना भारी देती,
मैं तो पीहर में खुश रहती माया पैसों की माया पैसों की
माया पैसों की माया पैसों की।।

पैसा देश-विदेश घुमावे नहीं तो गलियां में गोता खावे,
उसको पागल कह बतलावे माया पैसों की माया पैसों की
ओ माया पीसा री ओ माया पीसा री ।।

पैसा बुड्ढा की शादी करावे पैसा ही कन्या बिकवावे,
नहीं तो कुंवारा रह जावे माया पैसों की माया पैसों की
माया पैसों की माया पैसों की।।

पैसा धर्म और तीर्थ करावे पैसा ही पूजा करावे,
नहीं तो पापी के बतलावे माया पैसों की माया पैसों की
माया पैसों की माया पैसों की।।

दुनिया पैसों की पुजारी पूजा करते नर और नारी,
जग में पाप कमाते भारी माया पैसों की माया पैसों की
माया पैसों की माया पैसों की।।

Rajasthani Bhajan Lyrics

Leave a Reply