देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया

देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया
दिल दीवाना हो गयामेरा दिल दीवाना हो गया
देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया

चांद से मुखड़े पे मां केलाल बिंदिया है लगी
नैनो में कजरा है डाला दिल दीवाना हो गया
देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया

सर पर गोटेदार चुनरीचांद तारों से सजी
नौलखा यह हार प्यारा दिल दीवाना हो गया
देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया

हाथ में सोने के कंगनलाल चूड़ी साथ है
जिसपे है मेहंदी की लाली दिल दीवाना हो गया
देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया

पैरों में पायल के घुंघरूछम छमा छम छम बजे
मन लुभाये तो कहूं मैं दिल दीवाना हो गया
देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया
दिल दीवाना हो गया मेरा दिल दीवाना हो गया
देख कर सिंगार मां का दिल दीवाना हो गया

This Post Has 2 Comments

  1. Pingback: काली का रूप निराला – bhakti.lyrics-in-hindi.com

  2. Pingback: Durga Mata Bhajan Lyrics – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply