पावन प्रभु का नाम लिए जा रहा हूँ मैं

पावन प्रभु का नाम लिए जा रहा हूँ मैं,
जीवन उन्ही के नाम किये जा रहा मैं,
पावन प्रभु का नाम लिए जा रहा हूँ मैं।।

अधमो से अधम तारो हो तारोगे मुझे भी,
इस आसरे से अब तो जिए जा रहा हूँ मैं,
जीवन उन्ही के नाम किये जा रहा मैं,
पावन प्रभु का नाम लिए जा रहा हूँ मैं।।

माया में आके मन मेरा उलझा है की तरह,
भव सिंधु में थपेड़ा अब खा रहा हूँ मैं,
जीवन उन्ही के नाम किये जा रहा मैं,
पावन प्रभु का नाम लिए जा रहा हूँ मैं।।

संसार से ना मिल सका आया मैं हारके,
इसलिए अब तेरा भजन गए रहा हूँ मैं,
जीवन उन्ही के नाम किये जा रहा मैं,
पावन प्रभु का नाम लिए जा रहा हूँ मैं।।

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply