पूछो हमारे दिल से क्या क्या गुजर रही है

पूछो हमारे दिल से क्या क्या गुजर रही है
मिलने को यार श्याम से साँसे चल रही है।।

मैंने तो ये सुना है के दिल्लगी हो करते
फिर भी दीवाने तेरी एक एक अदा पे मरते
व्याकुल ह्रदय में श्याम की आहे पल रही है।।

बिरानी जिंदगी में बांके बहार आजा
सुनले मेरी पुकारे बस एक बार आजा
विरहा की आग दिल में सदियों से जल रही है।।

मुझको ये ना खबर थी बर्बाद यु करोगे
चरणों के दास को तुम आबाद यु करोगे
अरे आजाओ प्राण प्यारे मेरी साँसे निकल रही है।।

Pucho Hamare Dil Se Kya Kya Gujar Rahi Hai
Milane Ko Yar Shyam Se Sanse Chal Rahi Hai

Mainne To Ye Suna Hai Ke Dillagi Ho Karate
Phir Bhi Divane Teri Ek Ek Ada Pe Marate
Vyakul Hraday Mein Shyam Ki Ahe Pal Rahi Hai

Birani Jindagi Mein Banke Bahar Aja
Sunale Meri Pukare Bas Ek Bar Aja
Viraha Ki Ag Dil Mein Sadiyon Se Jal Rahi Hai

Mujhako Ye Na Khabar Thi Barbad Yu Karoge
Charanon Ke Das Ko Tum Abad Yu Karoge
Are Ajao Pran Pyare Meri Sanse Nikal Rahi Hai

Leave a Reply