पूछ रही राधा बताओ गिरधारी

पूछ रही राधा बताओ गिरधारी
पूछ रही राधा बताओ गिरधारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी।।

पूछ रही राधा बताओ गिरधारी
पूछ रही राधा बताओ गिरधारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी।।

गोकुल में छुप छुप के माखन चुराए
ग्वाल – बाल संग मिल बांट के खाएं
गोकुल में छुप छुप के माखन चुराए
ग्वाल बाल संग मिल बांट के खाएं
ग्वाल बाल संग मिल बांट के खाए ।।

दर्शन की प्यासी राधा बेचारी
दर्शन की प्यासी राधा बेचारी
में लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी।।

सारा दिन घूम वृंदावन भटक्यो
सारा दिन घूम वृंदावन भटक्यो
मुझसे ही दूर दूर रहे तुम झटक्यो
मुझसे ही दूर दूर रहे तुम झटक्यो ।।

अच्छी लगे तुमको ग्वालिन की गारी
अच्छी लगे तुमको ग्वालिन की गारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी ।।

कान्हा तोरी बोली से मधु टपक है
सांवली सुरतिया पे रस बरसत है
कान्हा तोरी बोली से मधु टपक है
सांवली सुरतिया पे रस बरसत है
श्याम काहे…………….

श्याम काहे देते मेरी सुध बिसारी
श्याम काहे देते मेरी सुध बिसारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
पूछ रही राधा बताओ गिरधारी
पूछ रही राधा बताओ गिरधारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी
मैं लागू प्यारी या बंसी है प्यारी।।

Leave a Reply