बंसी बजादे सांवरिया तू बंसी बजादे सांवरिया

बंसी बजादे सांवरिया तू बंसी बजादे सांवरिया
गैया सूनी ग्वालन सूने सूनी कान्हा तेरी गोपियाँ
बंसी बजादे सांवरिया ……………..

जमुना का पानी थम सा लगे है
दिन भी लगे जैसे रतिया
बंसी बजादे सांवरिया ………….

वृन्दावन भी सूना सूना
बोले मोर ना कोयलिया
बंसी बजादे सांवरिया ……….

क्यों इतरावे बाँसुरिया पर
क्यों तरसाये सांवरिया
बंसी बजादे सांवरिया ……………

मात यशोदा की है दुहाई
अब तो बजा दे बाँसुरिया
बंसी बजादे सांवरिया …………

This Post Has 3 Comments

Leave a Reply