बंसी मधुर बजावे म्हारा नंदलाला

बंसी मधुर बजावे म्हारा नंदलाल
नन्द लाला म्हारा बड़ा प्यारा
बंसी मधुर बजावे म्हारा नंदलाला।।

वृंदावन की गली गली में धूम मची बंसी की,
राधे रानी दोडी आई सुनते ही धुन बंसी की
बंसी राधे को मन भाई रे नन्द लाला
बंसी मधुर बजावे म्हारा नंदलाला।।

बंसी की धुन सुन के ग्वालन झूम झूम के गावे,
मंत्र मुक्त हो ढोल कलिया बंसी धुन मन भावे,
गाये दौड़ी दौड़ी आ गई है नन्द लाला
बंसी मधुर बजावे म्हारा नंदलाला।।

Leave a Reply