बहुत नाज करते हैं रहमत पे हम भजन लिरिक्स Bhakti Bhajan Singers ke gane of Krishna Ji bhajans Lyrics

बहुत नाज करते हैं रहमत पे हम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम,
सलामत रहे तेरी नजरे करम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम।।

जिधर देखते है उधर तु ही तु है,
हर इक शय में जलवा तेरा हुबहू है,
जमाना दीवाना हो के चूमे चरण,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम।।

रहमतों का नहीं है ठिकाना,
हे दीदार तेरा दया का खजाना,
सभी शहंशाह तेरा भरते है दम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम।।

बहुत शुक्रिया हे बड़ी मेहरबानी,
बसर हो रही है मेरी जिंदगानी,
तुम्हारी रजा में राजी है हम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम।।

तेरी रहमतों के कर्जदार है हम,
गुनाहों पे अपने शर्मसार हैं,
हम मधुक खा रहा है यही एक गम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम।।

बहुत नाज करते हैं रहमत पे हम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम,
सलामत रहे तेरी नजरे करम,
बहुत नाज करते है रहमत पें हम।।

Bhakti Bhajan Singers ke gane of Krishna Ji bhajans Lyrics बहुत नाज करते हैं रहमत पे हम Lyrics

Bahut Naaj Karte Hai Rehmat Pe Hum
Salamat Rahe Teri Nazare Karam

Jidhar Dekhte Hai Udhar Tu Hi Tu Hai
Har Ek Shai Mein Jalwa Tera Hu Bahu Hai

Jamana Deewana Hoke Chhome Charan
Bahut Naaj Karte Hai Rehmat Pe Hum
Salamat Rahe Teri Nazare Karam

Teri Rehmato Ka Nahi Hai Thikana
Hai Deedar Tera Daya Ka Khajana

Sabhi Shehanshaah Tera Bharte Hai Dum
Bahut Naaj Karte Hai Rehmat Pe Hum
Salamat Rahe Teri Nazare Karam

Bahut Shukariya Hai Badi Meharbani
Basar Ho Rahi Hai Meri Zindagani

Tumhari Raja Mein Raaji Hai Hum
Bahut Naaj Karte Hai Rehmat Pe Hum
Salamat Rahe Teri Nazare Karam

Teri Rehmato Ke Karj Daar Hai Hum
Gunaaho Pe Apni Sharam Shaar Hai Hum

Ulajh Mat Dil Baharo Mein Baharo Ka Bharosa Kya
Ulajh Mat Dil Saharo Mein Saharo Ka Bharosa Kya
Tu Sambal Naam Ka Lekar Kinaro Se Kinara Kar
Sambal Bhi Toot Jaate Hai Kinaro ka Bharosa Kya

Teri Rehmato Ke Karj Daar Hai Hum
Gunaaho Pe Apne Sharam Shaar Hai Hum

Madhup Khaa Raha Hai Yahi Ek Gam
Bahut Naaj Karte Hai Rehmat Pe Hum
Salamat Rahe Teri Nazare Karam

Leave a Reply