बालाजी के दर से हम खाली नहीं जाएंगे

बालाजी के दर से हम खाली नहीं जाएंगे
संकट को मिटा कर हम दर से अब जायेगे
सालासर धाम से हम खुशिया है पायेगे,
बालाजी के दर से हम खाली नहीं जाएंगे।।

बाला जी के चरणों में हम शीश झुकाते है
बाला जी की महिमा को हम दिल से सुनाते है,
खोल दिल के दरवाजे बाला जी को बुलायेगे
सालासर धाम से हम खुशिया है पायेगे,
बालाजी के दर से हम खाली नहीं जाएंगे।।

बाला जी भगतो के सब संकट हरते है
देखो भुत पिशात भी बाला जी से डरते है,
जो कर न सका कोई वो कर के दिखाते है
सालासर धाम से हम खुशिया है पायेगे,
बालाजी के दर से हम खाली नहीं जाएंगे।।

संजीवनी भुट्टी ला कर बाला जी ने दिख लाया
लक्ष्मण जी के प्राण बचा बाला जी ने दिख लाया
माँ अंजनी का लाला तुम्हे दर पे बुलाते है,
सालासर धाम से हम खुशिया है पायेगे,
बालाजी के दर से हम खाली नहीं जाएंगे।।

Leave a Reply