बेटी के होने से ही परिवार चलता है

बेटी के होने से ही परिवार चलता है,
बेटी से ही तो सारा संसार चलता है,
सुनी धरती बेटी बिन सुना है जहा सारा,
बेटी के बिना कहा किसका घरबार चलता है।।

बेटी जैसा और नहीं है गहना कोई दूजा,
करती है जीवन भर बेटी माँ बाप की पूजा ,
बेटी के आंचल में ख़ुशी और प्यार पलता है,
बेटी के बिना कहा किसका परिवार चलता है।।

करलो ख्याल इनका आंगन सो बार सवारेगी,
होगी गर मझधार में नैया उसको पार उतरेगी,
बेटी से इस दुनिया का सार चलता है,
बेटी के बिना कहा किसका घरबार चलता है।।

प्रेम करो हर बेटी से मत बेटी को दुकारो,
माँ की कोख में बेटी को बेहरहमी से मत मारो,
बेटी से रिश्तो का कारोबार चलता है,
बेटी के बिना कहा किसका घरबार चलता है।।

Beti Ke Hone Se Hi Pariwar Chalta Hai
Beti Se To Sara Sansaar Chalta Hai

Suni Dharti Beti Bin Suna Hai Jaha Saara
Beti Ke Bin Kaha Kiska Ghar Baar Chalta Hai

Beti Jaisa Aur Nahi Gehna Aur Koi Dooja
Karti Hai Jeevan Bhar Beti Maa Aur Baap Ki Pooja

Beti Ke Aanchal Mein Khusi Aur Pyar Palta Hai
Beti Ke Hone Se Hi Pariwar Chalta Hai

Karlo Khayal Inka Aagan Sua Baar Savarengi
Hogi Gar Majhdhaar Mein Naiya Usko Paar Utarengi

Beti Se Hi Is Duniya Ka Saar Chalta Hai
Beti Ke Bin Kaha Kiska Ghar Baar Chalta Hai

Prem Karo Har Beti Ko Mat Beti Ko Dutkaro
Maa Ki Khokh Mein Beti Ko Berahmi Se Mat Maaro

Beti Se Rishto Ka Karobaar Chalta Hai
Beti Ke Bin Kaha Kiska Ghar Baar Chalta Hai

Beti Ke Hone Se Hi Pariwar Chalta Hai
Beti Se To Sara Sansaar Chalta Hai

Leave a Reply