भारत देश में कैसी फैशन आई

इस भारत देश में कैसी फैशन आई,

श्वास लेता हूँ तो जख्मों को हवा लगती हैं,
ए जिंदगी तु मेरे क्या लगती हैं?
सुखों की सोत दुखों की दुल्हन लगती हूँ,
सही मायने से जिओ वरना मौत लगती हूँ।

इस भारत देश में कैसी फैशन आई,
इस भारत देश में कैसी फैशन आई।।

हाथ जोड़ कर करु विनति सुनो बात सज्जनों मेरी,
आज सुनाता हूँ मैं तुमको बाता सारी फैशन की,
इस दुनिया ने मती बिगाड़ी अपने भारत देशन की,
इस दुनिया ने मति बिगाड़ी अपने भारत देशन की,
चिमनी भर का तेल नहीं जो बात करें टेगेशन की,
घर बोलना आता नहीं और बात करें वो लेक्चर की,
घर आवे जद रोल मचावे रो रो देख लुगाई रे,
इस भारत देश में कैसी फैशन आई।।

धोती पहनना छोड़ दिया और पेहरण लागा पैंट और बूट,
धोती पहनना छोड़ दिया और पैहरण लागा पैंट और बुट,
बाहर जाय ने करें मजूरी तनखा सारी जावें छुट,
बाहर जाय ने करें मजूरी तनखा सारी जावे छुट,
केवें हेलीकॉप्टर चलावा घर आवे जद बोले झूठ,
केवे हेलीकॉप्टर चलावा घर आवे जद बोले झूठ,
लम्बा लम्बा बाल बढावे जुआं बैंठ ने काढे अपुट,
लम्बा लम्बा बाल बढावे जुआं बैठने काढ़े अपुट,
देखा देखी पङवा लागी अब देखो भायों में फूट,
देखा देखी पङवा लागी अब देखो भायो में फूट,
सीनो तान चले गलियां में मन में करें बढ़ाई,
इस भारत देश में कैसी फैशन आई ।।

रामश्यामा चला गया है चला गया है नमस्कार,
रामा श्यामा चला गया है चला गया है नमस्कार,
हाथ मिलावे झटका मारे थैंक यू बोले बारम्बार,
हाथ मिलावे झटका मारे थैंक यू बोले बारम्बार,
होटल से चाय मंगावे घर आवे जद भुआ तैयार,
होटल से चाय मंगावे घर आवे जद भुआ तैयार,
बात कहे वो पर घर बैठा मन में है वो है हुशियार,
बात कहें वो पर घर बैठा मन में हैं वो हैं हुशियार,
इस कलयुग में मौज उड़ावे के दर्जी के नाई,
इस भारत देश में कैसी फैशन आई ।।

घमक घाघरा छोड़ दिया और पैरण लागी पेटी कोट,
घमक घाघरा छोड़ दिया और पैरण लागी पेटी कोट,
जुती जगह सैंडल पेरे चाहे आए पैरों में चोट,
जूती जगह सैंडल पेरे चाहे आए पैरों में चोट,
एक हाथ में कड़ा पहन कर एक हाथ में बांधे घड़ी,
एक हाथ में कड़ा पहन कर एक हाथ में बांधे घड़ी,
अपने पति के सामे बोले आंख दिखावे बड़ी बड़ी,
अपने पति के सामे बोले आंख दिखावे बड़ी बड़ी,
‘रामनिवास’ कहे भारत में आ काई फैशन आन पड़ी,
राम निवास कहे भारत में आ काई फैशन आन पड़ी,
चार चार आँगल बाल कटावे चाहे बाई केवो साहे भाई,
इस भारत देश में कैसी फ़ैशन आई।।

इस भारत देश में कैसी फैशन आई,
इस भारत देश में कैसी फैशन आई।।

सिंगर – प्रमोद पंडित।

Swaas Leta Hun To Jakhmo Ko Hava Lagati Hain
Ae Jindagi Tu Meri Kya Lagati Hain
Sukho Ki Saut Dukhon Ki Dulhan Lagati Hun
Sahi Mayane Se Jio Varana Maut Lagati Hun

Is Bharat Desh Mein Kaisi Fashion Aayi
In Bharat Desh Mein Kaisi Fashion Aayi

Hath Jod Kar Karu Vinati
Suno Baat Sajjano Meri
Aaj Sunata Hun Main Tumko
Bata Sari Phaishan Ki
Is Duniya Ne Mati Bigadi
Apne Bharat Deshan Ki
Is Duniya Ne Mati Bigadi
Apne Bharat Deshan Ki
Chimani Bhar Ka Tel Nahin
Jo Baat Karen Tegeshan Ki
Ghar Bolana Aata Nahin Aur
Baat Karen Vo Election Ki
Ghar Aave Jad Rol Machave
Ro Ro Dekh Lugai Re
Bharat Desh Mein Kaisi Fashion Aayi

Dhoti Pahanana Chhod Diya Aur
Peharan Laga Paint Aur Boot
Dhoti Pahanana Chhod Diya Aur
Paiharan Laga Paint Aur But
Bahar Jaye Ne Karen Majuri
Tankha Sari Jave Chhut
Bahar Jay Ne Karen Majuri
Tanakha Sari Jave Chhut
Keven Helicopter Chalava
Ghar Aave Jad Bole Jhuth
Keve Helikoptar Chalava
Ghar Aave Jad Bole Jhuth

Lamba Lamba Baal Badhave
Juan Bainth Ne Kadhe Aput
Lamba Lamba Bal Badhave
Juan Baithane Kadhe Aput
Dekha Dekhi Panava Lagi
Ab Dekho Bhayon Mein Phut
Dekha Dekhi Panava Lagi
Ab Dekho Bhayo Mein Phut
Seeno Tan Chale Galiyan Mein
Man Mein Karen Ho Badhai
Bharat Desh Mein Kaisi Faishion Aayi

Andho Naar Abhagiyo
Madvo Maya Daar
Itro To Seedha Hale Nahi
Sayo Nahi Hunar Karo Bazaar

Rama Shyama Chala Gaya Hain
Chala Gaya Hai Namaskar
Rama Shyama Chala Gaya Hai
Chala Gaya Hai Namaskar
Hath Milave Jhataka Mare
Thaink Yu Bole Barambar
Hath Milave Jhataka Mare
Thaink Yu Bole Barambar
Hotal Se Chay Mangave
Ghar Aave Jad Bhua Taiyar
Hotal Se Chay Mangave
Ghar Aave Jad Bhua Taiyar
Baat Kahe Vo Par Ghar Baitha
Man Mein Hai Vo Hai Hushiyar
Bat Kahen Vo Par Ghar Baitha
Man Mein Hain Vo Hain Hushiyar
Iss Kalayug Mein Mauj Udave
Ke Darji Ke Nayi Re
Is Bharat Desh Mein Kaisi Fashion Aayi

Sada Nahi Raja Rank
Sada Nahi Mrindag Baaje
Aur Sada Nahi Dhoop Nahi Chhav
Sada Nahi Indra Gaaje
Sada Nahi Yovan Kharaye
Sada Nahi Kala Desh
Betal Kahe Suno Vikram Nahi
Sada Nahi Raja Desh

Ghamak Ghaghara Chhod Diya Aur
Pairan Lagi Peti Kot
Ghamak Ghaghara Chhod Diya Aur
Pairan Lagi Peti Kot
Juti Jagah Saindal Pere
Chahe Ae Pairon Mein Chot
Juti Jagah Saindal Pere Chahe
Ae Pairon Mein Chot
Ek Hath Mein Kada Pahan Kar
Ek Hath Mein Bandhe Ghadi
Ek Hath Mein Kada Pahan Kar
Ek Hath Mein Bandhe Ghadi
Apne Pati Ke Samne Bole
Ankh Dikhave Badi Badi
Apne Pati Ke Same Bole
Ankh Dikhave Badi Badi
Ramanivas Kahe Bharat Mein
Aa Kai Phaishan Aaye Padi
Ram Nivas Kahe Bharat Mein
Aa Kai Phaishan An Padi
Char Char Angal Bal Badave
Chahe Bai Kevo Sahe Bhai
Is Bharat Desh Mein Kaisi Fashion Aaye

Is Bharat Desh Mein Kaisi Phaishan Aayi
Is Bharat Desh Mein Kaisi Fashion Aayi

This Post Has One Comment

  1. Pingback: Daulat Duniya Maal Khajana – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply