मनुष्य तू बडा महान है

धरती की शान तू है,मनु की संतान,
तेरी मुठ्ठियों मे बंद तूफान है रे,
मनुष्य तू बडा महान है,
भूल मत मनुष्य तू बडा़ महान है।।

तू जो चाहे पर्वत पहाडो को फोड दे,
तू जो चाहे नदियों के मुख को भी मोड दे,
तू जो चाहे पर्वत पहाडो को फोड दे,
तू जो चाहे नदियों के मुख को भी मोड दे,

तू जो चाहे माटी से अमृत निचोड़ दे,
तू जो चाहे धरती को अंबर से जोड दे,
अमर तेरे प्राण अमर तेरे प्राण,
मिला तुझको वरदान,
तेरी आत्मा मे रे तेरी आत्मा मे स्वयं भगवान है,
तेरी आत्मा मे स्वयं भगवान है रे,
मनुष्य तु बड़ा महान है,
भूल मत मनुष्य तु बड़ा महान है ।।

नैनो मे ज्वाल तेरी गत मे भुचाल,
तेरी छाती मे छुपा महाकाल है,
नैनो मे ज्वाल तेरी गत मे भुचाल,
तेरी छाती मे छुपा महाकाल है,

पृथ्वी के लाल तेरी हिमगिरि सा भाग,
तेरी भ्रकुटी मे तांडव का ताल है,
निज को तू रे
निज को तू जान निज को तू जान,
जरा शक्ति पहचान,
ओ तेरी वाणी में ओ तेरी वाणी मे,
युग का अहवान है रे,
मनुष्य तु बड़ा महान है,
भूल मत मनुष्य तू बड़ा महान है।।

धरती सा भी तू है अग्नि सा भी,
तू जो चाहे काल को भी थाम ले,
धरती सा भी तू है अग्नि सा भी,
तू जो चाहे काल को भी थाम ले,

पापो का प्रलय रूके पशुता का शिश झुके,
तू जो चाहे हिम्मत से काम ले,
गुरू सा मतीमान गुरू सा मतीमान,
पवन सा तू गतीमान,
ओ तेरी नभ से रे तेरी नभ से भी ऊंची उडान है,
ओ तेरी नब से भी ऊंची उडान है रे,
मनुष्य तू बड़ा महान है,
भूल मत मनुष्य तू बड़ा महान है।।

धरती की शान तू है,मनु की संतान,
तेरी मुठ्ठियों मे बंद तूफान है रे,
मनुष्य तू बडा महान है,
भूल मत मनुष्य, तू बडा़ महान है।।

Singer – Prakash Mali

Dharti Ki Shaan Hai Tu
Manu Ki Santaan
Teri Mutthiyo Mein
Band Toofan Hai Re
Manushya Tu Bada Mahan Hai

Dharti Ki Shaan Hai Tu
Man Ki Santaan
Teri Mutthiyo Mein

Band Toofan Hai Re
Manushya Tu Bada Mahan Hai

Bhool Mat Manushya
Tu Bada Mahaan Hai

Tu Jo Chaahe Parvat
Pahado Ko Fod De

Tu Jo Chaahe Nadiyo Ke
Mukh Ko Bhi Mod De

Tu Jo Chahe Maati Se
Amrat Nichod De

Tu Jo Chaahe Dharti Ko
Amber Ko Jod De

Amar Tere Pran
Mila Tujhko Vardan

Teri Atma Mein
Swam Bhagwan Hai Re

Manushya Tu Bada Mahaan Hai
Bhool Mat Manushya
Tu Bada Mahaan Hai

Naino Mein Jwaal
Teri Chhaati Mein Bhoochaal

Teri Chhati Mein
Chupa Mahakal Hai

Prithvi Ke Laal
Himgiri Sa Bhal

Teri Bhrikuti Mein
Tandav Ka Taal Hai

Nij Ko Tu Jaan Re
Jara Shakti Pahchan

O Teri Vaani Mein
Yug Ka Aahwaan Hai Re

Manushya Tu Bada Mahaan Hai
Bhool Mat Manushya
Tu Bada Mahaan Hai

Dharti Saa Bheed
Tu Hai Agni Saa Bhi

Tu Jo Chaahe Kaal
Ko Bhi Thaam Le

Paapo Ko Kar Palyava Ke
Pashuta Ka Sheesh Jhuke
Tu Jo Chaahe Himmat Se Kaam Le

Guru Sa Mati Maan
Pawan Sa Gati Maan Hai
Teri Nabh Se Unchi Udaan Hai

Manushya Tu Bada Mahaan Hai
Bhool Mat Manushya
Tu Bada Mahaan Hai

Leave a Reply