माँ की हर बात निराली है

पास की सुनती है, दूर की सुनती है,
गुमनाम के संग संग मशहूर की सुनती है ।
माँ तो आखिर माँ है माँ के भक्तो,
माँ तो हर मजबूर की सुनती है ॥

माँ की हर बात निराली है,
बात निराली है, के हर करामात निराली है,
महा दाती से सब को मिली सौगात निराली है ॥

वक़्त की चाल बदले, दुःख की जनझाल बदले,
इसके चरणों में झुककर, बड़े कंगाल बदले ।
यहाँ जो आये सवाली, कभी वो जाए न खली,
यह लाती पतझर में भी, हर चमन में हरिआली ।
काली रातो ने लाती प्रभात निराली है ॥

दया जब इसकी होती, तो कंकर बनते मोती,
जिसे यह आप जगादे, ना फिर किस्मत वो सोती ।
गमो से घिरने वाले, बड़े इस माँ ने संभाले,
फसे मझदार में बेड़े, इसी में बाहर निकाले ।
इसकी मीठी ममता की बरसात निराली है ॥

दुःख ताकती है यह, सुख बांटती है जी,
हमे पालती है ये दिनरात ही ।
जादू इसका अजीब, देखो हो के करीब,
यह तो बदले नसीब दिन रात ही ।
इस की रहमत हर निर्दोष के साथ निराली है ॥

Paas Ki Sunti Hai
Door Ki Sunti Hai
Gum Naam Ke Sang Sang
Mashhoor Ki Sunti Hai

Maa To Akhir Maa Hai Maa Ke Bhakto
Maa To Har Majboor Ki Sunti Hai

Maa Ki Haar Baat Nirali Hai
Maa Ki Haar Baat Nirali Hai

Baat Nirali Hai
Maa Ki Har Karamat Nirali Hai

Maha Daati Se Sabko Mili
Saugaat Nirali Hai

Waqt Ki Chaal Badale
Dukh Ke Janjaal Badale

Isske Charano Mein Jhukar
Bade Kangaal Badale

Yaha Jo Aaye Sawali
Kabhi Vo Jaye Naa Khaali

Ye Laati Patjhad Mein Bhi
Har Chaman Mein Bhi

Kaali Raato Mein Laati
Prabhaat Nirali Hai

Maa Ki Har Baat Nirali Hai
Maa Ki Har Karamat Nirali Hai

Daya Jab Iski Hoti
To Kankar Bante Moti
Jise Ye Aap Jagade
Naa Fir Vo Kismat Soti

Gamo Se Ghirne Wale Bade
Iss Maa Ne Sambhale

Fase Majhdhaar Mein Bede
Issi Ne Bahar Nikaale

O Iski Meethi Mamta Ki
Barsaat Nirali Hai

Maa Ki Har Baat Nirali Hai
Maa Ki Haar Baat Nirali Hai

This Post Has One Comment

  1. Pingback: durga bhajan lyrics – bhakti.lyrics-in-hindi.com

Leave a Reply