मुझे मेरे श्याम की मुरलिया बन जाने दो

मुझे मेरे श्याम की मुरलिया बन जाने दो
मुरलियाँ बन जाने दो मुरलियाँ बन जाने दो।।

सुन लो प्यारी सखियों मैं मुरली जब बजाउगी,
कोयल की तरह मैं सब के मन को रिझाऊगी,
अरे होठो पे इक बार मुझे मोहन के आ जाने दो,
मुझे मेरे श्याम की मुरलिया बन जाने दो।।

श्याम के मैं अधरों पे जब सज जाऊगी,
राधा रानी के संग सब को रिझाऊंगी,
धुन जरा मीठी मीठी अब भज जानेदो,
मुझे मेरे श्याम की मुरलिया बन जाने दो।।

गोपियाँ भी नाचे ग्वाले भी नाचे,
भूल के सुध बुध जग सारा नाचे,
मस्ती मेरे सँवारे की मुझे चढ़ जाने दो,
मुझे मेरे श्याम की मुरलिया बन जाने दो।।

Mujhe Mere Shyam Ki Muraliya Ban Jaane Do
Muraliya Ban Jaane Do Muraliya Ban Jaane Do

Mujhe Mere Shyam Ki Muraliya Ban Jaane Do
Muraliya Ban Jaane Do Muraliya Ban Jaane Do

Sunlo Pyari Sakhiyo Main Murali Jab Ban Jaungi
Koyal Ki Tarah Main Sabke Man Ko Rijhaungi

Hoto Pe Ek Baar Mujhko Mohan Pe Aa Jane Do
Mujhe Mere Shyam Ki Muraliya Ban Jaane Do

Shyam Ke Main Adharo Pe Jab Saj Jaungi
Radha Rani Ke Sang Sabko Nachaungi

Dhun Jara Meethi Meethi Ab Baj Jaane Do
Mujhe Mere Shyam Ki Muraliya Ban Jaane Do

Gaiya Bhi Naache Gwale Bhi Naache
Bhool Ke Sudh Budh Jag Sara Naache

Masti Mere Sanware Ki Mujhe Chad Jaane Do
Mujhe Mere Shyam Ki Muraliya Ban Jaane Do

Singer – Anant Haridasi Didi Meenu Sharma ( Vrindavan )

Leave a Reply