मेरी मेरी जग ते न कर मना मेरियाँ

मेरी मेरी जग ते न कर मना मेरियाँ,
मेरी मेरी वाला इथे कोई न रहा,
करदा ऐ मान जेह्डा दोलता ज़गीरा दा,
वरतन वाला जदओही न रहा,
मेरी मेरी जग ते न कर मना मेरियाँ,

मोह माया पीछे लग भुलेया औकात वे,
मिटियाँ देया भांडेया तू होना जदों राख दे,
बनेया सी काल जीने अपने ही पावे नाल,
जग विच बेठ इथे ओह्वी न रेहा
मेरी मेरी जग ते न कर मना मेरियाँ,

दुनिया दे विच हस खेडा मौजा मान वे,
इक दिन छड जाना झूठा ऐ जहां वे,
आह बी मेरा ओह वी मेरा सांभ सांभ रखदा है,
लेके एथो नाल कहंदे कोई न गया,
मेरी मेरी जग ते न कर मना मेरियाँ,

रहिये वाले रोशन ओहदे नाम नु ध्याले ओये,
जिंगदी तू आपनी नु सफल बना लै ओये,
गुरु रविदास जी दे राह उते जान वाला,
चोरासी वाले गेड विच कोई न पया,
मेरी मेरी जग ते न कर मना मेरियाँ,

Leave a Reply