मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से

मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से,
आने से तेरे आने से
मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से।।

मेरी गलियाँ देवा सुनी पड़ी है,
सुनी पड़ी है देवा सुनी पड़ी है,
मेरी गलियाँ में मच जाए धूम गजानन्द तेरे आने से,
मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से।।

मेरी बगियाँ देवा सुनी पड़ी है,
सुनी पड़ी है देवा सुनी पड़ी है,
मेरी बगियाँ में खिल जाए फुल गजानन्द तेरे आने से,
मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से।।

मेरा अंगना देवा सुना पड़ा है,
सुना पड़ा है देवा सुना पड़ा है,
मेरे अंगना में आए बहार गजानन्द तेरे आने से,
मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से।।

मेरा मंदिर देवा सुना पड़ा है,
सुना पड़ा है देवा सुना पड़ा है,
मेरे मंदिर में जग जाए ज्योत गजानन्द तेरे आने से,
मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से।।

मेरा पलना देवा सुना पड़ा है,
सुना पड़ा है देवा सुना पड़ा है,
हो मेरे पलने में झूले नंदलाला गजानन्द तेरे आने से,
मेरे बन जाए बिगड़े काम गजानन्द तेरे आने से।।

This Post Has One Comment

Leave a Reply