मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी

फागुन मॉस में फाग उड़े और
बीच चले रंगी की पिचकारी
रंग में भीज अबीर लगे
रास खीर लगे वृषभानु दुलारी
कान्हा मेल वर जोरि गुलाल
कहे चाहे मानो बुरा राधा प्यारी।।

जो चाहे मुझे आज कहो मोहे सजनी
मोहे होली में मीठी लगे तेरी जारी
बोलो होली के रसिया की जय हो।।

मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी
मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी।।

हम्बे मैं तो मलूँगी हांजी मैं तो मलूँगी
हम्बे मैं तो मलूँगी हांजी मैं तो मलूँगी
गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे
हाँ मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे।।

हो वारे रसिया हो वारे छैला
हो वारे रसिया हो वारे छैला

मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी
मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी।।

गाल गुलाल नैन विच कजरा
नैन विच कजरा नैन विच कजरा
गाल गुलाल नैन विच कजरा
मैं बैनी गुहूँ तेरे बालन पे

मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे
हाँ मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे।।

हम्बे मैं तो मलूँगी हांजी मैं तो मलूँगी
हम्बे मैं तो मलूँगी हांजी मैं तो मलूँगी
गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे
हाँ मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे।।

मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी
मैं तो मलूँगी गुलाल तेरे गालन पे मैं तो मलूँगी।।

Leave a Reply