मैया का मंदिर सुहाना लगता है

मैया का मंदिर सुहाना लगता है
हर कोई माँ का दीवाना लगता है

तेरे दर पे जो आते उनको मैया
प्यारे जय करे बुलाना लगता है

मैया का मंदिर सुहाना लगता है
हर कोई माँ का दीवाना लगता है

मंदिर मंदिर मेरे माँ का मंदिर

चाँद तारे कर रहे सदके तेरे दर माँ
तेरी जय जय कर रहे धरती ये अम्बर माँ
रोज ही भक्तो के मेले रोज लंगर माँ
ना ही तेरे दर सा होगा मंजर माँ
मंदिर मंदिर मेरी माँ का मंदिर

मैया का मंदिर सुहाना लगता है
हर कोई माँ का दीवाना लगता है

तेरे चरणों बह रही गंगा की धारा माँ
बदलो की गोद में घर तेरा प्यारा माँ
तू शक्ति वरदान तेरा नाम तेरा न्यारा माँ
दर पे तेरे झुक रहा संसार सारा माँ
मंदिर मंदिर मेरी माँ का मंदिर

मैया का मंदिर सुहाना लगता है
हर कोई माँ का दीवाना लगता है

सज रहा सुन्दर गुफा का तेरा द्वारा माँ
पिंडी रूपों में तेरा अध्भुत नजारा माँ
तुझसे है दुनिया सारी तू किनारा माँ
डूबती कश्ती का तू किनारा माँ
मंदिर मंदिर मेरी माँ का मंदिर

मैया का मंदिर सुहाना लगता है
हर कोई माँ का दीवाना लगता है

Leave a Reply