मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है

मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है
म्हाने लागे बेमिसाल है
करे भक्ता ने निहाल है
मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है

पवन बहे माँ चुनार लहरावे
उड़ उड़ सबपे मेहर बरसावे
पल में सारा भक्ता ने
करे माला माल है
करे माला माल करे भक्ता ने निहाल
मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है

माँ री चुनरी रो अजब नजरो
चम् चम् चमके जू चमके सितारा
तारा वाली चुनरी रंग लाल लाल है
रंग लाल लाल करे भक्ता ने निहाल है
मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है

अमर सुहागन रो वर देवे चुनरी
सुना होवे तो अगन भर देवे चुनरी
अंख्या सु लागलो
अंख्या से लागलो चुनरी बदल देवे चाल है
बदल देवे चाल करे भक्ता ने निहाल है
मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है

आयी नवरात्र माँ ने चुनरी चढ़ावो
मैया से दिल की थे बाता बताओ
बिट्टू मैया जीवन में करे फिर कमाल
बिट्टू फिर जीवन में करे कमाल है
करे भक्ता रो निहाल है
मैया थारी चुनरी म्हाने लागे बेमिसाल है

Leave a Reply