मोहे रंग बिरंगाे कर गयी रे

ऐरी छैल छबीली, एक नार नवेली,
बरसाने की छोरी……….
मोहे रंग बिरंगाे कर गये रे,
मोहे रंग बिरंगाे कर गयी रे होली है ।।

मेरे छैल छबीलो, मोहे श्याम रंगीलो,
वृंदावन का छोरा………..
मोहे रंग बिरंगी कर गयो रे,
मोहे रंग बिरंगी कर गयो रे होली है ।।

लाल गुलाबी नीलाे पीलाे लाई रंग बड़ा रंगीलाे,
कोई नहीं छोड़ो सुखो, कर गई सबको गिलो,
कोई नहीं छोड़ो सुखो, कर गई सबको गिलो,
बरसाने की छोरी……….
मोहे रंग बिरंगाे कर गयी रे,
मोहे रंग बिरंगाे कर गयी रे होली है ।।

ग्वाल बाल की लेके टोली खेलन आया हमसे होली,
भीगी सगली सारी चोली, खूब करे रे श्याम चटोली,
भीगी सगली सारी चोली, खूब करे रे श्याम चटोली,
वृंदावन का छोरा……….
मोहे रंग बिरंगाे कर गये रे,
मोहे रंग बिरंगाे कर गयी रे होली है ।।

राधे रानी गोरी गोरी, रंग पीएम को लाई रे,
श्याम रंग में डूबी राधे, श्याम नाम धुन गई रे,
कृष्णा बोले राधे राधे, राधे बोले कृष्णा कृष्णा,
दोनों प्रेम के रंग में रंग गयो रे,
दोनों प्रेम के रंग में रंग गयो रे,
दोनों प्रेम के रंग में रंग गयो रे होली है।।

Leave a Reply