राम के दास रस्ता दिखा दो

राम के दास रस्ता दिखा दो
राम जी से मुझे तुम मिला दो

भजन तर्ज-इश्क में हम तुम्हे क्या बताये

हाथ जोड़े मैं कब से खड़ा हूं
गलतियों को मेरी तुम भुला दो
राम के दास रस्ता दिखा दो

रोया जब भी तुम्हीं ने संभाला
हर मुसीबत से बाहर निकाला
मुझको भक्ति का प्याला पिला दो
राम जी से मुझे तुम मिला दो
राम के दास रस्ता दिखा दो

कौन सा काम तुमसे जो ना हो
भोले भगवान की आत्मा हो
लहरी चंदन वो घिसना सिखा दो
राम जी से मुझे तुम मिला दो
राम के दास रस्ता दिख दो

राम के दास रस्ता दिखा दो
राम जी से मुझे तुम मिला दो

Leave a Reply