राम बुलावा आवे एक दिन उस बुलावे से डरियो

राम बुलावा आवे एक दिन उस बुलावे से डरियो,
आगे मरजी आपकी भैया के सुमिरन करियो ना करियो।।

लाख चौरासी भोग के योनि मानव चोला मिलता है,
मानव चोला मिलता है मानव चोला मिलता है,
हरी कृपा से जीवन का ये फूल सुहाना खिलता है,
फूल सुहाना खिलता है फूल सुहाना खिलता है,
बेधडे का मोल है भाई भव सागर से तरियो,
आगे मरजी आपकी भैया के सुमिरण करियो ना करियो।।

मात पिता और भाई बंधू, जीते जी के साथी हैं,
जीते जी के साथी हैं जीते जी के साथी हैं,
अंत समय सब आँख दिखाएं तेरे नहीं हिमायती हैं,
तेरे नहीं हिमायती हैं तेरे नहीं हिमायती हैं,
इनके वास में सोच ले खुद कहे कितना भी मरियो।।

आगे मरजी आपकी भैया के सुमिरण करियो ना करियो,
आगे मरजी आपकी भैया के सुमिरण करियो ना करियो।।

अब भी समय है सम्भल जाओ वरना फिर पछताओगे,
वरना फिर पछताओगे वरना फिर पछताओगे,
यही साथ में जाएगा जो सुनों दान कर जाओगे,
सुनों दान कर जाओगे सुनों दान कर जाओगे,
ये संसार तो है मतलब का अपनी करनी खुद भरियो,
आगे मरजी आपकी भैया के सुमिरण करियो ना करियो,
राम बुलावा आवे एक दिन उस बुलावे से डरियो,
आगे मरजी आपकी भैया के सुमिरण करियो ना करियो,

Ram Bulave Aave Ek Din
Uss Bulave Se Daryo
Aage Marji Aapki Bhaiya
Sumiran Kariyo Naa Kariyo

Ram Bulave Aave Ek Din
Uss Bulave Se Daryo
Aage Marji Aapki Bhaiya
Sumiran Kariyo Naa Kariyo

Laakh Chaurasi Bhog Ke Yoni
Manav Chola Milta Hai
Hari Kripa Se Jeevan Ka Ye
Phool Suhana Khilta
Deh Dhare Ka Mol Hai Bhayi
Bhav Sagar Se Tarayo

Aage Marji Aapki Bhaiya
Sumiran Kariyo Naa Kariyo

Maat Pita Aur Bhayi Bandhu
Jeete Jee Ke Sathi Hai
Ant Samaye Sab Aankh Dikhaye
Tere Nahi Himaati Hai
Inke Waste Sukh Soch Le
Khud Chahe Kitna Bhi Maryo

Aage Marji Aapki Bhaiya
Sumiran Kariyo Naa Kariyo

Ab Bhi Samaye Sambhaljao
Warna Fir Pachhataoge

Yahi Saath Mein Jayega Jo
Suno Daan Kar Jaoge
Ye Sansaar To Hai Matlab Ka
Apni Karani Khud Bhariyo

Aage Marji Aapki Bhaiya
Sumiran Kariyo Naa Kariyo

Ram Bulave Aave Ek Din
Uss Bulave Se Daryo

Aage Marji Aapki Bhaiya
Sumiran Kariyo Naa Kariyo

Leave a Reply