रूठी रूठी हो क्यों हमसे मेरी जान राधा

रूठी रूठी हो क्यों हमसे मेरी जान राधा
तेरे प्यार के बिना है तेरा श्याम आधा ,
करता करता है तू मुरली से प्यार ज्यादा
रूठे इस लिए तेरी जान राधा।।

क्यों मुरली के उपर अपना पल पल हाथ फिरावे
मुझे छोड़ कर क्यों मुरली को होठो से चिप कावे,
तोड़ी तोड़ी है कन्हिया तूने मर्यादा
रूठे इस लिए तेरी जान राधा।।

गलत सोच के कारन राधा भज गई तू बंधन में
मुरली तो मेरे हाथ में सोहे तू है मेरे मन में
एसी बातो से न होता कभी कोई फयदा
तेरे प्यार के बिना है तेरा श्याम आधा।।

सतम सुर में जब तेरी मुरली मीठी मीठी बोले
मद होशी सी छाने लगती दिल खाते हिचकोले
होती होती है वेचैनी मुझे बड़ी ज्यदा
रूठे इस लिए तेरी जान राधा।।

हरे बांस की मुरली राधा क्या कर लेगी तेरी
कहे अनाडी बिना बात के साथ न छोड़ो मेरा
जीने मरने का किया है मैंने तुझे वाधा,
तेरे प्यार के बिना है तेरा श्याम आधा।।

Roothi Roothi Hai
Roothi Roothi Hai Kyo Humse
Meri Jaan Radha Meri Jaan Radha
Tere Pyar Ke Bina Hai Tera Shyam Aadha

Karta Karta Hai Karta Karta Hai
Tu Murali Se Pyar Jyada Pyar Jada
Roothi Isliye Teri Jaan Radha

Kyo Murali Pe Harpal Apna Hath Firave
Mujhe Chhod Kar Kyo Murali Ko
Hotho Se Chipkae
Todi Todi Hai Todi Todi Hai
Kanhaiya Tune Maryada
Todi Todi Hai Kanhaiya Tune Maryada
Roothi Isliye Teri Jaan Radha

Galat Soch Ke Karan Radha
Fas Gayi Tu Uljhan Mein
Murli To Mere Hath Mein Sohe
Tu Hai Mere Man Mein

Aisi Baato Se Na Hota
Kabhi Koi Fayda
Tere Pyar Ke Bina Hai
Tera Shyam Aadha

Saptam Sur Mein Jab Teri Murali
Meethi Meethi Bole
Madh Hoshi Se Chhane Lage
Dil Khate Hichkole
Hoti Hoti Hai Bechain Mujhe Badi Jyada
Roothi Isliye Teri Jaan Radha

Hare Baans Ki Murali Radha
Kya Karlegi Tera
Kahe Anadi Bina Baata Ke
Sath Na Chhoda Radha
Jeene Marne Ka Kiya Hai
Maine Tumse Vada

Tere Pyar Ke Bina Hai
Tera Shyam Aadha

Leave a Reply