वो समा कैसा होगा वो समा

कब आएगा कब आएगा,
कब आएगा कब आएगा,
वो समा कैसा होगा वो समा,
पाएंगे हम मंजिल जहाँ,
कैसा होगा वो समा,
पाएंगे हम मंजिल जहाँ।।

हम ना जाने मंजिल कहाँ,
हम न जाने जाना कहाँ,
हम तो बस इतना पता,
तुम मेरी मंजिल तू मेरे खुदा,
गीत नहीं है ये दिल की पुकार,
सुन लो मेरे मालिक तुम कर दो किरपा,
कर दो किरपा तुम कृपा।।

कैसा होगा वो समा,
पाएंगे हम मंजिल जहाँ,
कब हमे ले जाओगे,
कब हमें पँहुचाओगे कैसा होगा।
कैसा होगा वो समा,
पाएंगे हम मंजिल जहाँ,
कैसा होगा वो समा,
पाएंगे हम मंजिल जहाँ।।

Leave a Reply