श्याम मेरा करना तुम इंतजार कल फिर मिलने आउंगी

श्याम मेरा करना तुम इंतजार कल फिर मिलने आउंगी,
मैं कल न देर लगाऊ मैं तो जल्दी जल्दी आऊ
तेरे प्यार में खिची कन्हिया मैं तो दोडी दोडी आऊ,
पक्का वाधा है इस वार मैं देर नही लगाऊगी
श्याम मेरा करना तुम इंतजार कल फिर मिलने आउंगी।।

लाऊ तेरे लिए मैं माखन खा के खुश हो जाए गा मन
तुझे बड़ा पसंद है कन्हिया तेरे दिल का खिल जाए आँगन
कल फिर न्यारी छाए बहार माखन ज्यादा लाऊंगी
श्याम मेरा करना तुम इंतजार कल फिर मिलने आउंगी।।

तेरे सिवा कुछ नजर ना आये बिन तेरे कुछ न भाये
हो बिना मिले रे कन्हिया ये राधा न रुक पाए
इक तू ही मेरा दिलदार मैं प्यार निभाऊ गी
श्याम मेरा करना तुम इंतजार कल फिर मिलने आउंगी।।

Leave a Reply