सजा दो दर को फूलो से लिरिक्स, saja do dar ko phulo se lyrics in Hindi

सजा दो दर को फूलो से माँ का नवरात्र आया है,
माँ का नवरात आया है,
समप्रदा कीर्ति यश भेभव सुख समृधि लाया है,
सजा दो दर को फूलो से माँ का नवरात्र आया है,

पखारो माँ के चरणों को बहादों प्रेम की गंगा,
विशादों फूल पलकों से माँ का नवरात आया है,,
सजा दो दर को फूलो से माँ का नवरात्र आया है,

देख कर अपनी मैया को मेरी आँखे भी भर आई,
हुई रोशन मेरी गलियां माँ का नवरात आया है,,
सजा दो दर को फूलो से माँ का नवरात्र आया है,

बना कर भोग हाथो से हे माँ मैं तुझे खिलाउगा,
रहेगा सेवा में देविंदर,
माँ का नवरात आया है,
सजा दो दर को फूलो से माँ का नवरात्र आया है,

saja do dar ko phulo se lyrics in English,

saja do dar ko phoolo se maan ka navaraatr aaya hai,,
maan ka navaraat aaya hai,
samaprada keerti yash bhebhav sukh samrdhi laaya hai,,
saja do dar ko phoolo se maan ka navaraatr aaya hai,

pakhaaro maan ke charanon ko bahaadon prem kee ganga,
vishaadon phool palakon se maan ka navaraat aaya hai,,
saja do dar ko phoolo se maan ka navaraatr aaya hai,

dekh kar apanee maiya ko meree aankhe bhee bhar aaee,
huee roshan meree galiyaan maan ka navaraat aaya hai,
saja do dar ko phoolo se maan ka navaraatr aaya hai,

bana kar bhog haatho se he maan main tujhe khilauga,
rahega seva mein devindar,
maan ka navaraat aaya hai,
saja do dar ko phoolo se maan ka navaraatr aaya hai,

Leave a Reply